UCL Discovery
UCL home » Library Services » Electronic resources » UCL Discovery

दुनिया ने जैसे सामाजिक मीडिया को बदल दिया

Miller, D; Haynes, N; McDonald, T; Nicolescu, R; Sinanan, J; Spyer, J; Venkatraman, S; (2019) दुनिया ने जैसे सामाजिक मीडिया को बदल दिया (Priya K. Murthy, Trans.). UCL Press: London, UK. Green open access

[img]
Preview
Text
How-the-World-Changed-Social-Media_Hindi.pdf - Published version

Download (37MB) | Preview

Abstract

दुनिया ने जैसे सामाजिक मीडिया को बदल दिया, हम क्यों पोस्ट करते हैं ग्रन्थ श्रृंखला का पहला ग्रन्थ है जो उन नौ मानवविज्ञानियों के निष्कर्षों पर जाँच करता है जिन्होंने दुनिया भर के समूहों में १५ महीने तक बिताया जिसमे शामिल है ब्राज़ील, चिली, चीन, इंग्लैंड, भारत, इटली, ट्रिनिडाड और टर्की. यह ग्रन्थ एक तुलनात्मक विश्लेषण को प्रदान करता है जो अनुसंधान के परिणाम को संक्षेप में प्रस्तुत करता है और राजनीति और लिंग, शिक्षा और व्यापार पर सामाजिक मीडिया के प्रभाव का पता लगाता है. दृश्य संचार पर बढ़ते हुए ज़ोर का परिणाम क्या है? क्या हम अधिक व्यक्तिगत या सामाजिक बनते हैं? क्यों सार्वजनिक सामाजिक मीडिया अधिक रूढ़िवादी होता है? क्यों ऑनलाइन समानता ऑफलाइन असमानता को बदलने में असफल होता है? कैसे मिमी इंटरनेट के नैतिक पुलिस बन गए? परियोजना के शैक्षिक ढाँचा और सैद्धांतिक शर्तों, जो निष्कर्षों के उत्तरदायी होने में मदद करते हैं, के परिचय से समर्थित होकर यह ग्रन्थ तर्क करता है कि सामाजिक मीडिया जैसे अन्तरंग और सर्वव्यापक वास्तु को समझने और मूल्यांकन करने का एक ही रास्ता पोस्ट करनेवाले लोगों के जीवन में तल्लीन होकर रहना है. तभी हम पता लगा सकते हैं कि दुनिया भर के लोगों ने जैसे सामाजिक मीडिया को अभी तक अप्रत्याशित तरीकों से बदल दिया हैं और उनके परिणाम पर आकलन कर सकते हैं.

Type: Book
Title: दुनिया ने जैसे सामाजिक मीडिया को बदल दिया
ISBN-13: 9781787354937
Open access status: An open access version is available from UCL Discovery
DOI: 10.14324/111.9781787354937
Publisher version: https://doi.org/10.14324/111.9781787354937
Additional information: पाठ डेनियल मिल्लर, एलिसाबेट्टा कोस्टा, नेल हैन्स, टॉम मैक्डोनाल्ड, रज़वान निकोलेस्क्यू, जोळींना सिनानं, जूलियानो स्पयेर, श्रीराम वेंकटरामन छवियाँ डेनियल मिल्लर, एलिसाबेट्टा कोस्टा, नेल हैन्स, टॉम मैक्डोनाल्ड, रज़वान निकोलेस्क्यू, जोळींना सिनानं, जूलियानो स्पयेर, श्रीराम वेंकटरामन यह ग्रन्थ क्रिएटिव कॉमन एट्रीब्यूशन नॉन-कमर्शियल नॉन-डेरीवेटिव ४.० अंतर्देशीय लाइसेंस (CC BY-NC-ND 4.0) के तहत प्रकाशित किया गया है. यह लाइसेंस आपको लेखक और प्रकाशक के आरोपण को स्पष्ट रूप से प्रदान करके इस कार्य को व्यक्तिगत और गैर-व्यापारिक उपयोग केलिए शेयर, कॉपी, वितरित और संचारित करने देता है. CC BY लाइसेंस पर अधिक जानकारी http:// creativecommons.org/licenses/by/4.० पर उपलब्ध ह
Keywords: दक्षिण भारत,सामाजिक मीडिया,मीडिया,इंटरनेट
UCL classification: UCL
UCL > Provost and Vice Provost Offices
UCL > Provost and Vice Provost Offices > UCL SLASH
UCL > Provost and Vice Provost Offices > UCL SLASH > Faculty of S&HS
UCL > Provost and Vice Provost Offices > UCL SLASH > Faculty of S&HS > Dept of Anthropology
URI: https://discovery.ucl.ac.uk/id/eprint/10068958
Downloads since deposit
64Downloads
Download activity - last month
Download activity - last 12 months
Downloads by country - last 12 months

Archive Staff Only

View Item View Item